प्रवीण तोगड़िया ने अंतराष्ट्रीय हिंदू परिषद के नाम से बनाया नया संगठन, बोले-”टीम बदली लेकिन तेवर नहीं बदले”

नई दिल्ली: विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) और सत्ता में घटती दखलअंदाजी के बाद वीएचपी से इस्तीफा दे चुके प्रवीण तोगड़िया ने आज अंतराष्ट्रीय हिन्दू परिषद (AHP) को लॉन्च किया. प्रवीण तोगड़िया ही अंतराष्ट्रीय हिंदू परिषद को अध्यक्ष भी होंगे. उन्होंने वीएचपी के पैटर्न पर ही कई संगठन- राष्ट्रीय बजरंग दल, राष्ट्रीय किसान परिषद, राष्ट्रीय मजदूर परिषद, राष्ट्रीय छात्र परिषद, राष्ट्रीय महिला परिषद और युवतियों के लिए ओजस्विनी संगठन का गठन किया है.

संगठन की लॉन्चिंग के मौके पर तोगड़िया समर्थक खास टोपी में नजर आए. जिसपर ‘हिंदू ही आगे’ लिखा था. साथ ही मंच पर भारत माता, गौ माता, भगवान गणेश के साथ अशोक सिंघल की तस्वीर लगी हुई थी. अशोक सिंघल विश्व हिंदू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं और उनका 17 नवंबर 2015 को निधन हो गया था.

आपको बता दे कि प्रवीण तोगड़िया के नए संगठन के लॉन्चिंग के मौके पर सभी कार्यकर्ताओं ने एक विशेष प्रकार की टोपी पहनी हुई थी। जिसके ऊपर लिखा हुआ था ‘हिंदू ही आगे’। अंतराष्ट्रीय हिंदू परिषद की लॉन्चिंग के मौके पर प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि मेरा संगठन 1964 से चल रहा है। और संगठन लगातार अपने लक्ष्य की ओर तेजी से बढ़ रहा है। आज एक नई टीम का गठन किया गया है। यही नहीं प्रवीम तोगड़िया ने कहा कि टीम बदली लेकिन तेवर नहीं बदले हैं। लोग तो आते जाते रहते हैं।

‘टीम बदली लेकिन तेवर नहीं’

एएचपी के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि मेरा संगठन 1964 से चल रहा है. संगठन अपने लक्ष्य पर लगातार आगे बढ़ रहा है. नई टीम बनी है और वह अपना काम करेगी. उन्होने कहा, ”टीम बदली लेकिन तेवर नहीं बदले हैं. लोग आते जाते रहे हैं.”

अलग-थलग पड़े तोगड़िया

आपको बता दें कि इसी साल अप्रैल में विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) में चुनाव कराए गए थे. तोगड़िया की नाराजगी के बावजूद हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल वीएस कोकजे (विष्णु सदाशिव कोकजे) को वीएचपी का अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया. कोकजे ने तोगड़िया के करीबी माने जाने वाले राघव रेड्डी को हराया था. तोगड़िया ने तब दावा किया था कि वीएचपी के इतिहास में पहली बार चुनाव से अध्यक्ष चुना गया है. उन्होंने बीजेपी की ओर इशारा करते हुए कहा था कि इसे सरकारी संस्था बनाने की साजिश चल रही है.

कभी प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के करीबी रहे प्रवीण तोगड़िया पिछले कुछ महीनों से लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रहे थे. तोगड़िया राम मंदिर, कश्मीर में धारा 370, गौ हत्या और खेती-किसानी जैसे मसलों पर कहा था कि मोदी ने सत्ता में आने के बाद वादाखिलाफी किया. अपनी मांगों को लेकर तोगड़िया इसी साल 16 अप्रैल को अहमदाबाद में बेमियादी हड़ताल पर बैठ गये थे. हालांकि कुछ ही दिनों में तोगड़िया ने अपना अपवास तोड़ दिया था.

Web Title : Praveen Togadia created AHP in response to VHP