AIIMS में भर्ती हैं पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी; BJP ने शुरू किया ‘हवन’, जल्द स्वस्थ होने की कर रहे हैं प्रार्थना

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत स्थिर बनी हुई है और कल आई जांच रिपोर्ट में यूरिन इंफेक्शन भी अब कंट्रोल और पहले से सुधार है. पूर्व प्रधानमंत्री का इलाज कर रहे एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया तय करेंगे कि उनको कब डिस्चार्ज किया जाएगा. डॉक्टरों के मुताबिक के कई टेस्ट जो पिछले एक- दो सालों से नहीं हुए थे, इन सभी की रिपोर्ट आ जाने के बाद उनको डिस्चार्ज कर दिया जाएगा. इनमें कई टेस्ट किये जा चुके हैं और सबकी रिपोर्ट सामान्य आई है.

इधर अटल बिहारी वाजपेयी की हालत में सुधार के लिए कानपुर में भाजपा कार्यकर्ता हवन कर रहे हैं। हवन के पास कार्यकर्ताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री की फोटो भी लगा रखी है। लंबे समय से बीमार चल रहे  अटल बिहारी वाजपेयी दिल्ली के एम्स में भर्ती हैं। अटल बिहारी वाजपेयी का अस्पताल में यूरिनरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन का इलाज चल रहा है। इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को लोवर रेस्पाइरेटरी ट्रैक्ट इंफेक्शन और किडनी संबंधी परेशानी के बाद सोमवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया।

बता दें कि रुटीन चेकअप के लिए अटल बिहारी वाजपेयी को सोमवार को एम्स लाया गया था, जहां पर उनका डायलिसिस हुआ। एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया की देखरेख में यहां उनका इलाज किया जा रहा है। जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को अस्पताल में उनसे मिलने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, समेत कई बड़े नेता पहुंचे थे।

Web Title : Former PM Atal Bihari Vajpayee is recruited in AIIMS; BJP launched 'Havan'